Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

विदेशी छात्रवृत्ति

You are here

जापान

अध्‍ययन का स्‍तर शोध अध्‍ययन (पीएच.डी)
विषय/क्षेत्र (1) सूचना प्रौद्योगिकी
(2) ऑप्टिकल फाइबर कॉम्‍युनिकेशन
(3) गुणवत्‍ता और विश्‍वसनीयता इंजीनियरिंग (विद्युत एवं बिजली, रेलवे, भारी उद्योग, भारी इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स जैसे विभिन्‍न निकायों पर यथा लागू)
(4) इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स और संचार
(5) रोबोटिक्‍स
(6) लेज़र टेक्‍नोलॉजी
(7) बायो-टेक्‍नोलॉजी
(8) जापानी भाषा और साहित्‍य
(9) मत्‍स्‍य पालन
(10) जापानी अध्‍ययन
(11) भूकंप इजीनियरिंग
(12) पर्यावरण विज्ञान
(13) आर्किटेक्‍चर
(14) एयरोस्‍पेस इंजीनियरिंग
(15) मैटीरियल साइंस/इंजीनियरिंग
(16) सिविल इंजीनियरिंग
(17) मेकेनिकल इंजीनियरिंग
अवधि 18 माह से 2 वर्ष (बढ़ाई जा सकती है)
छात्रवृत्ति 30 - 35
शैक्षिक सत्र आरंभ अप्रैल/अक्‍टूबर
अधिसूचना विभाग की वेबसाइट पर : अप्रैल/मई
पात्रता i. जापानी भाषा
(क) जो छात्र मान्‍यताप्राप्‍त विश्‍वविद्यालय में जापानी भाषा के स्‍नातकोत्‍तर डिग्री पाठ्यक्रम में नामांकित हैं।
(ख) जिन छात्रों ने मान्‍यताप्राप्‍त विश्‍वविद्यालय में जापानी भाषा का अवर-स्‍नातक डिग्री पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है।
(ग) जिन छात्रों ने मान्‍यताप्राप्‍त विश्‍वविद्यालय से किसी विषय में 50% या उससे अधिक अंकों के साथ अवर-स्‍नातक डिग्री पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है और जिन्‍होंने जापान फाउंडेशन द्वारा आयोजित जापानी भाषा प्रवीणता परीक्षा (जेएलपीटी) का दूसरा स्‍तर पूरा कर लिया है तथा भारत के मान्‍यताप्राप्‍त विश्‍वविद्यालय/संस्‍थान में जापानी भाषा अध्‍ययन के कम से कम 3 वर्ष पूरे कर लिए हैं।
ii. जापानी अध्‍ययन:
संबंधित क्षेत्र में कम से कम 60% अंकों के साथ मास्‍टर डिग्री
iii. शोध अध्‍ययन (पीएच.डी) हेतु
(क) संबंधित क्षेत्र में कम से कम 60% अंकों के साथ मास्‍टर डिग्री। जिस अभ्‍यर्थी के पास 30.05.2008 तक निर्धारित अर्हता प्राप्‍त करने के पश्‍चात् व्‍यावहारिक शोध/शिक्षण/कार्य अनुभव होगा।
(ख) जिन छात्रों के पास विज्ञान अ‍थवा कला अथवा इंजीनियरिंग में स्‍नातक डिग्री है और जिन्‍होंने 15 अथवा 16 वर्षीय पाठ्यचर्या (अर्थात् 12+3 या 12+4) पूरी कर ली है, वे भी जापान की सरकार की छात्र अनुसंधान छात्रवृत्ति के पात्र हैं, बशर्ते उनके कम से कम 60% अंक हों।
आयु 35 वर्ष से कम
मूल्‍य जापान की सरकार द्वारा दिया जाने वाला रख-रखाव भत्‍ता जिसमें अध्‍ययन भत्‍ता, फीस, चिकित्‍सा-व्‍यय का आंशिक भुगतान, आवास आदि शामिल हैं।
आवागमन लागत दोनों तरफ का व्‍यय भारत सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
आवेदन प्रक्रिया टाईप किया हुआ आवेदन प्रमाणपत्रों, फोटोग्राफ, अध्‍ययन/अनुसंधान कार्यक्रम तथा अन्‍य दस्‍तावेजों की सत्‍यापित प्रतियों के साथ सादे कागज़ पर (अधिसूचित फॉर्मेट के अनुसार) नियत तिथि तक प्रस्‍तुत किया जा सकता है। कार्यरत अभ्‍यर्थियों द्वारा उनके आवेदन अनापत्ति प्रमाणपत्र के साथ उनके नियोक्‍ताओं के माध्‍यम से भेजे जाने आवश्‍यक हैं।
संपर्क पता अवर सचिव (छात्रवृत्ति) मानव संसाधन विकास मंत्रालय, उच्‍चतर शिक्षा विभाग, विदेशी छात्रवृत्ति प्रभाग, दूसरी मंजिल, विंग-6, वेस्‍ट ब्‍लॉक-।, आर.के.पुरम, दिल्‍ली-110066