विश्वविद्यालय और उच्चतर शिक्षा | Government of India, Ministry of Human Resource Development

विश्वविद्यालय और उच्चतर शिक्षा

केन्द्रीय विश्‍वविद्यालय

केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालयों की सूची:

1. दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय

दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना फरवरी, 1922 में की गई थी। यह देश में उच्‍चतर शिक्षा की अग्रणी संस्‍थाओं में से एक है तथा प्रत्‍येक विषयों में स्‍नातकपूर्व और स्‍नातकोत्‍तर कार्यक्रम प्रदान करता है। इसके अलावा यह अनेक एप्‍लीकेशन-ओरिएंटेड विषयों अल्‍पकालिक और दीर्घकालिक सर्टिफिकेट/डिप्‍लोमा पाठ्यक्रम प्रदान करता है।
अधिक ब्यौरे के लिए www.du.ac.in पर क्लिक करें

2. पूर्वोत्‍तर पर्वतीय विश्‍वविद्यालय

पूर्वोत्‍तर पर्वतीय विश्‍वविद्यालय (एनईएचयू) की स्‍थापना संसद के एक अधिनियम द्वारा 1973 में की गई थी, जिसका मुख्‍य उद्देश्‍य उत्‍तर पूर्वी क्षेत्र के पहाड़ी क्षेत्रों के लोगों की सामाजिक एवं आर्थिक स्‍थितियों और कल्‍याण में सुधार करना तथा विशेष रूप से उनकी बौद्धिक शैक्षिक और संस्‍कृतिक उन्‍नति करना है। विश्‍वविद्यालय का अधिकार क्षेत्र अब केवल मेघालय राज्‍य तक सीमित है तथा इसके कैम्‍पस शिलांग और तुरा में स्‍थित है।
अधिक ब्यौारे के लिए www.nehu.ac.in पर क्लिक करें

3. असम विश्‍वविद्यालय

असम विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना 1994 में सिल्‍चर में की गई थी। यह शिक्षण-सह-सम्‍बद्धता प्रदान करने वाला विश्‍वविद्यालय है जिसके अधिकार क्षेत्र में असम राज्‍य के कछार, करीमगंज, हेलकंदी, कर्बी, आंगलोंग और नार्थ कछार हिल्‍स जिले आते हैं। इसमें स्‍नातकोत्‍तर, एम.फिल. और पीएचडी पाठ्यक्रम चलाए जाते हैं। इनके अलावा विश्‍वविद्यालय द्वारा सामाजिक कार्य, विधि, कंप्‍यूटर विज्ञान, ललित कला जैसे कुछ पंच वर्षीय समेकित पाठ्यक्रम तथा कुछ स्‍व वित्‍तपोषित पाठ्यक्रम भी चलाए जाते हैं।
अधिक ब्यौेरे के लिए www.aus.ac.in पर क्लिक करें

4. तेजपुर विश्‍वविद्यालय

तेजपुर विश्‍वविद्यालय एक शिक्षण एवं आवासीय विश्‍वविद्यालय है जिसकी स्‍थापना नापाम, तेजपुर (असम) में जनवरी, 1994 में की गई थी। विश्‍वविद्यालय स्‍नातकोत्‍तर कार्यक्रम और स्‍नातकोत्‍तर डिप्‍लोमा कार्यक्रम एवं अंशकालिक एमबीए कार्यक्रम प्रदान करता है।
अधिक ब्यौरे के लिए www.tezu.ernet.in पर क्लिक करें

5. मिजोरम विश्‍वविद्यालय

मिजोरम केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय दिनांक 2 जुलाई 2000 को केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में मिजोरम विश्‍वविद्यालय अधिनियम 2000 द्वारा स्‍थापित किया गया। विश्‍वविद्यालय अनेक विषयों में कई पाठ्यक्रम प्रदान करता है नामत: एम.ए., एम.एस.सी., एम.फिल., पीएचडी, बी.टेक आदि।
अधिक ब्यौोरे के लिए www.mzu.edu.in/ पर क्लिक करें

6. नागालैंड विश्‍वविद्यालय

नागालैंड केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय भारत सरकार द्वारा 1994 में कोहिमा, दीमापुर, लुमानी और मेडजीखेमा में स्थित परिसरों के साथ स्‍थापित किया गया। विश्‍वविद्यालय विभिन्‍न विषयों में एम.ए., एम.एस.सी, एमएमसी और पीएचडी पाठ्यक्रम प्रदान करता है|
अधिक ब्यौंरे के लिए http://nagalanduniversity.ac.in पर क्लिक करें

7. मणिपुर विश्‍वविद्यालय

मणिपुर विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना मणिपुर विधान मंडल के अधिनियम के तहत की गई थी। इसे मणिपुर विश्‍वविद्यालय अधिनियम 2005, जिसे 13 अक्‍टूबर, 2005 को लागू किया गया था, के तहत केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में निगमित किया गया था।
अधिक ब्यौरे के लिए www.manipuruniv.ac.in पर क्लिक करें

8. इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय

इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना 1887 में की गई थी जो देश के सबसे पुराने और सर्वाधिक प्रतिष्‍ठित विश्‍वविद्यालयों में से एक है। इसे राष्‍ट्रीय महत्‍व की संस्‍था के रूप में घोषित किया गया था तथा इसे इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2005 जिसे 14 जुलाई, 2005 को लागू किया गया था, के तहत केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में निगमित किया गया था। विश्‍वविद्यालय के शैक्षिक कार्यकलाप इसके अध्‍यापन विभागों के माध्‍यम से किए जाते हैं जिनमें परिसर संकाय, विश्‍वविद्यालय के संस्‍थान और एक स्‍वतंत्र केन्‍द्र शामिल हैं।
अधिक ब्यौयरे के लिए www.allduniv.ac.in पर क्लिक करें

9. राजीव गांधी विश्‍वविद्यालय

राजीव गांधी विश्‍वविद्यालय, ईटानगर की स्‍थापना अरूणाचल प्रदेश विधान मंडल के अधिनियम के तहत की गई थी। इसे राजीव गांधी विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2006, जिसे 9 अप्रैल, 2007 को लागू किया गया था, के तहत केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में निगमित किया गया था।
अधिक ब्यौयरे के लिए www.rguhs.ac.in पर क्लिक करें

10.त्रिपुरा विश्‍वविद्यालय

त्रिपुरा विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना त्रिपुरा विधान मंडल के अधिनियम के तहत की गई थी। इसे त्रिपुरा विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2006 के तहत, जिसे 2 जुलाई, 2007 को लागू किया गया था, केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में निगमित किया गया था।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.tripurauniv.in पर क्लिक करें

11.सिक्‍किम विश्‍वविद्यालय

सिक्‍किम विश्‍वविद्यालय का मुख्‍यालय गंगटोक में है जिसकी स्‍थापना एक शिक्षण और सम्‍बद्धता प्रदान करने वाले विश्‍वविद्यालय के रूप में सिक्‍किम विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2006 के तहत की गई थी, जिसे 2 जुलाई, 2007 को लागू किया गया था।
अधिक ब्यौिरे के लिए www.sikkimuniversity.ac.in पर क्लिक करें

12.अंग्रेजी और विदेशी भाषाएं विश्‍वविद्यालय

तत्‍कालीन केन्‍द्रीय अंग्रेजी और विदेशी भाषा संस्‍थान, हैदराबाद को अंग्रेजी और विदेशी भाषा विश्‍वविद्यालय के नाम से केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में निगमित किया गया है। इसकी स्‍थापना अंग्रेजी और विदेशी भाषा अधिनियम, 2006 के तहत की गई है जिसे 3 अगस्‍त, 2007 को लागू किया गया था। विश्‍वविद्यालय के कई परिसर हैं। लखनऊ और शिलांग स्‍थित परिसरों के अलावा इसका मुख्‍य परिसर हैदराबाद में है। अपने उद्देश्‍यों को आगे बढ़ाने के लिए, विश्‍वविद्यालय अनेक आन-कैंपस कार्यक्रम प्रदान कर रहा है जिनमें अंग्रेजी तथा अरबी, फ्रैंच, जर्मन, जापानी, रूसी और स्‍पेनिश जैसी विदेशी भाषाओं में एम.ए., एफ.फिल और पीएचडी की डिग्रियां प्रदान करना शामिल है। विश्‍वविद्यालय आन कैंपस के साथ-साथ दूरस्‍थ शिक्षा पद्धति के जरिए अंशकालिक सर्टीफिकेट/डिप्‍लोमा/एडवांस डिप्‍लोमा पाठ्यक्रम भी प्रदान कर रहा है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.efluniversity.ac.in पर क्लिक करें

13.अलीगढ़ मुस्‍लिम विश्‍वविद्यालय

अलीगढ़ मुस्‍लिम विश्‍वविद्यालय का मूल नाम एम.ए. ओ. कालेज था। इसकी स्‍थापना 1920 में की गई थी तथा संसद के अधिनियम के द्वारा इसे केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में निगमित किया गया है। यह देश की अग्रणी, पूर्णत: आवासीय शैक्षिक संस्‍थाओं में से एक है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए www.amu.ac.in पर क्लिक करें

14. बनारस हिन्‍दू विश्‍वविद्यालय

बनारस हिन्‍दू विश्‍वविद्यालय, जिसकी स्‍थापना एक शिक्षण एवं आवासीय विश्‍वविद्यालय के रूप में 1916 में की गई थी, देश के सबसे पुराने और बड़े विश्‍वविद्यालयों में से एक है।
अधिक ब्यौंरे के लिए www.bhu.ac.in पर क्लिक करें

15.जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय

जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय, नई दिल्‍ली की स्‍थापना 1969 में की गई थी। यह मुख्‍य रूप से स्‍नातकोत्‍तर शिक्षा एवं अनुसंधान कार्य से संबंधित है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए www.jnu.ac.in पर क्लिक करें

16. जामिया मिलिया इस्‍लामिया

जामिया मिलिया इस्‍लामिया, जो 1962 में सम विश्‍वविद्यालय के रूप में कार्य कर रहा था, ने दिसम्‍बर, 1988 में केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय का दर्जा प्राप्‍त कर लिया। यह विश्‍वविद्यालय नर्सरी से लेकर स्‍नातकोत्‍तर एवं डॉक्‍टरेट स्‍तर तक की शिक्षा प्रदान करता है। यह विश्‍वविद्यालय स्‍नातक पूर्व और स्‍नातकोत्‍तर स्‍तर के पाठ्यक्रमों के अलावा विभिन्‍न विषयों में पीएचडी कार्यक्रम प्रदान करता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए www.jmi.nic.in पर क्लिक करें

17.विश्‍व भारती

विश्‍व भारती शैक्षिक संस्‍थान वर्ष 1921 में स्‍वर्गीय गुरू देव रविन्‍द्रनाथ टैगौर द्वारा स्‍थापित किया गया। जिसे संसद के अधिनियम द्वारा 1958 में केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में शामिल किया गया। विश्‍वविद्यालय प्रारंभिक स्‍कूल स्‍तर से स्‍नातकोत्‍तर और डॉक्‍टरेट स्‍तर तक शिक्षा प्रदान करता है।
अधिक ब्यौारे के लिए www.visva-bharati.ac.in पर क्लिक करें

18.हैदराबाद विश्‍वविद्यालय

1974 में संसद के अधिनियम द्वारा स्‍थापित हैदराबाद विश्‍वविद्यालय इन वर्षों में देश में स्‍नातकोत्‍तर शिक्षण और अनुसंधान के एक प्रमुख संस्‍था के रूप में उभरा है। विश्‍वविद्यालय की अकादमिक गतिविधियां उसके स्‍कूल्‍स ऑफ स्‍टडी के माध्‍यम से चलाई जाती हैं। स्‍कूल ऑफ मेडीसन और इंजीनियरी विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी स्‍कूल 2007 में स्‍थापित किए गए हैं। विश्‍वविद्यालय का दूरस्‍थ शिक्षा केन्‍द्र भी दूरस्‍थ ढंग से कार्यक्रम पेश करता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए www.uohyd.ernet.in पर क्लिक करें

19. पांडिचेरी विश्‍वविद्यालय

पांडिचेरी विश्‍वविद्यालय, 1985 में संसद के एक अधिनियम द्वारा एक शिक्षण सह संबद्धता विश्‍वविद्यालय के रूप्‍ा में स्‍थापित किया गया था और इसका क्षेत्राधिकार पांडिचेरी और अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के संघ राज्‍य क्षेत्रों तक था तथा इसे लक्षद्वीप तक बढ़ाने का प्रावधान था। यह विश्‍वविद्यालय स्‍नातकोत्‍तर, एम.टेक., एम.फिल कार्यक्रम, पीएचडी कार्यक्रम और स्‍नातकोत्‍तर उपाधि कार्यक्रम पेश करता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.pondiuni.edu.in/ पर क्लिक करें

20.बाबासाहब भीमराव अम्‍बेडकर विश्‍वविद्यालय, लखनऊ

बाबासाहब भीमराव अम्‍बेडकर विश्‍वविद्यालय 1956 में लखनऊ में एक केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में स्‍थापित किया गया था। इसका उद्देश्‍य विज्ञान प्रौद्योगिकी के प्रमुख क्षेत्रों और कृषि प्रौद्योगिकी तथा समाज के सामाजिक एवं आर्थिक रूप से शोषित वर्ग के विकास के लिए सुसंगत ग्रामीण शिल्‍प जैसे अन्‍य सम्‍बद्ध विषयों में अनुदेशात्‍मक तथा अनुसंधान सुविधाओं द्वारा उन्‍नत ज्ञान का संवर्धन करना है। यह विश्‍वविद्यालय उन सिद्धांतों को भी संवर्धित कर रहा है जिनके लिए बाबा साहब भीमराव अम्‍बेडकर ने अपने जीवन काल में कार्य किया था।
अधिक ब्यौमरे के लिए www.bbau.ac.in/ पर क्लिक करें

21.मौलाना आजाद राष्‍ट्रीय उर्दू विश्‍वविद्यालय

मौलाना आजाद राष्‍ट्रीय उर्दू विश्‍वविद्यालय 1998 में हैदराबाद में स्‍थापित किया गया था। यह उर्दू भाषा के विकास और संवर्धन के परम्‍परागत और दूरस्‍थ ढंग के जरिए उर्दू माध्‍यम में उच्‍चतर तकनीकी एवं व्‍यावसायिक शिक्षा प्रदान करने के अधिदेश के साथ स्‍थापित किया गया था।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.manuu.ac.in पर क्लिक करें

22. महात्‍मा गांधी अंतर्राष्‍ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय

महात्‍मा गांधी अंतर्राष्‍ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय वर्ष 1997 में वर्धा में स्‍थापित किया गया था। विश्‍वविद्यालय का उद्देश्‍य सामान्‍य रूप से हिंदी भाषा और साहित्‍य को प्रोत्‍साहित और विकसित करना है और इस उद्देश्‍य के लिए हिंदी के विद्यवानों और विदेश में दिलचस्‍पी रखने वाले समूहों तक पहुंच बनाने के लिए, और दूरस्‍थ शिक्षा प्रणाली के माध्‍यम से हिंदी के प्रसार के लिए हिंदी के कार्यात्‍मक प्रभावकारिता में सुधार करने के लिए अनुवाद, व्‍याख्‍या करना और भाषा जैसे क्षेत्रों में प्रशिक्षण और शिक्षा में सक्रिय रूप से भागीदारी प्रदान करना हैं।
अधिक ब्‍यौरे के लिए www.hindivishwa.org पर क्लिक करें

23. इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद्यालय

इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद्यालय संसद के एक अधिनियम द्वारा 1985 में (1) दूरस्‍थ ढंग से उच्‍चतर शिक्षा में पहुंच ओर भागीदारी बढ़ाने और (2) दूरस्‍थ शिक्षा प्रणाली और मुक्‍त शिक्षण में स्‍तरों का संवर्धन, समन्‍वय और अवधारण करना, इन दोहरे उत्‍तरदायित्‍वों के साथ स्‍थापित किया गया था। तब से इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद्यालय का तेजी से विस्‍तार हुआ है और यह मुक्‍त तथा दूरस्‍थ शिक्षण के क्षेत्र में एक अंतरराष्‍ट्रीय संस्‍थान के रूप में उभरा है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.ignou.ac.in पर क्लिक करें

24. इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय जनजातीय विश्‍वविद्यालय

इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय जनजातीय विश्‍वविद्यालय अमरकंटक, मध्‍य प्रदेश, भारत के संसद के एक अधिनियम द्वारा स्‍थापित किया गया है। यह इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय जनजातीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2007 द्वारा अस्‍तित्‍व में आया और 8 जुलाई, 2008 को इसके प्रथम कुलपति की नियुक्‍ति के साथ सक्रिय हुआ। विश्‍वविद्यालय के क्षेत्राधिकार का विस्‍तार संपूर्ण देश तक है और विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग के माध्‍यम से केन्‍द्र सरकार द्वारा पूर्णत: वित्‍तपोषित किया जाता है। विश्‍वविद्यालय जनजातियों के उच्‍च शिक्षा के चिरकालिक स्‍वप्‍न को पूरा करता है।
अधिक ब्यौिरे के लिए http://igntu.nic.in/ पर क्लिक करें

25. बिहार केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

बिहार का केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय केन्‍द्रीय विश्‍ववि़द्यालय अधिनियम, 2009 के अधीन भारत सरकार द्वारा 2009 में स्‍थापित किया गया था। इस विश्‍वविद्यालय के प्रमुख उद्देश्‍यों में से एक शिक्षा की उन शाखाओं में जिन्‍हें यह उपयुक्‍त समझे, अनुदेशात्‍मक और अनुसंधानगत सुविधाएं प्रदान करके उन्‍नत ज्ञान का प्रचार करना है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cub.ac.in/ पर क्लिक करें

26. गुरू घासीदास विश्‍वविद्यालय

गुरू घासीदास विश्‍वविद्यालय केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2009 के अधीन स्‍थापित किया था। राज्‍य विधान मंडल के किसी अधिनियम द्वारा स्‍थापित जो पहले गुरू घासीदास विश्‍वविद्यालय कहलाता था, का औपचारिक रूप से उद्घाटन 16 जून 1983 को किया गया था। यह विश्‍वविद्यालय एक आवासीय सह सम्‍बद्धता संस्‍था है और इसका क्षेत्राधिकार छत्‍तीसगढ़ राज्‍य के बिलासपुर राजस्‍व प्रभाग में फैला है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://ggu.ac.in/ पर क्लिक करें

27.गुजरात केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

गुजरात केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय संसद द्वारा केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2009 के तहत स्‍थापित किया गया था। यह विश्‍वविद्यालय लोगों के बौद्धिक, अकादमिक ओर सांस्‍कृतिक विकास, उनकी सामाजिक और आर्थिक दशा सुधारने और उनके कल्‍याणार्थ विशेष ध्‍यान देने ओर पढ़ने पढ़ाने में नवाचार का संवर्धन करने के लिए समुचित उपाय तक देश में विकासार्थ जनशक्‍ति को शिक्षित प्रशिक्षित करने के लिए एकीकृत पाठ्यक्रमों हेतु विशेष प्रावधान करने के लिए ज्ञान का प्रसार और उन्‍नति करने के उद्देश्‍य से स्‍थापित किया गया था।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cug.ac.in/ पर क्लिक करें

28.हरियाणा केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

हरियाणा का केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय संसद के एक अधिनियम द्वारा 2009 में स्‍थापित किया गया था। इस समय यह विश्‍वविद्यालय नारनौल में राजकीय बी.एड. कालेज के नए भवन में अवस्‍थित अस्‍थायी परिसर में प्रकार्य कर रहा है। विश्‍वविद्यालय के उद्देश्‍यों में कुछ ज्ञान की ऐसी शाखाओं, जिन्‍हें यह उपयुक्‍त समझ सकता है, में अनुदेशात्‍मक और अनुसंधानगत सुविधाएं प्रदान करके ज्ञान का प्रसार और उन्‍नति करना तथा अपने शैक्षिक कार्यक्रमों में मानविकी, सामाजिक विज्ञान, विज्ञान और प्रौद्योगिकी में एकीकृत पाठ्यक्रमों के लिए विशेष प्रावधान करना है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cuh.ac.in/ पर क्लिक करें

29.हिमाचल प्रदेश केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

यह विश्‍वविद्यालय भारतीय संसद के केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2009 के तहत स्‍थापित किया गया था1 विश्‍वविद्यालय के मुख्‍य उद्देश्‍य ज्ञान की ऐसी शाखाओं, जिन्‍हें यह उपयुक्‍त समझता है, में अनुदेशात्‍मक और अनुसंधानगत सुविधाएं प्रदान करके ज्ञान का प्रसार और उन्‍नति करना तथा अपने शैक्षिक कार्यक्रमों में मानविकी, सामाजिक विज्ञान, विज्ञान और प्रौद्योगिकी में एकीकृत पाठ्यक्रमों के लिए विशेष प्रावधान करना है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cuhimachal.ac.in/ पर क्लिक करें

30.कश्‍मीर केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

कश्‍मीर केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय जो पहले जम्‍मू एवं कश्‍मीर का केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के नाम से जाना जाता था, मार्च 2009 में केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2009 के तहत स्‍थापित किया गया था। यह विश्‍वविद्यालय एमबीए, एमएससी, आईटी एवं एमए अंग्रेजी पाठ्यक्रम प्रस्‍तुत करता है, जो 25 अगस्‍त, 2010 से ट्रांजिट कैम्‍पस से शुरू हुए थे।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cukashmir.ac.in/ पर क्लिक करें

31. झारखंड केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

झारखंड केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय मार्च, 2009 में केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2009 के तहत स्‍थापित किया गया था। यह विश्‍वविद्यालय आधुनिक प्रौद्योगिकीयों में अनुसंधान करने पर विशेष ध्‍यान देता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cuj.ac.inपर क्लिक करें

32. कर्नाटक केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

कर्नाटक केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय (सीयूके) संसद के एक अधिनियम (सं. 2009 का 3) द्वारा गुलबर्गा, कर्नाटक में स्‍थापित किया गया था। कर्नाटक विश्‍वविद्यालय ने पूरे कर्नाटक में अपने प्रादेशिक क्षेत्राधिकार के साथ, देश में एक प्रमुख राष्‍ट्रीय शैक्षिक और अनुसंधान संस्था के रूप में उभर रहे और नामांकन तथा भर्ती में साम्‍य (इक्‍विटी) और पहुंच के प्रति संवेदनशीलता, अकादमिक प्रवीणता, में उच्‍च स्‍तर प्राप्‍त करने और उसे बनाए रखने के दर्शन के साथ अगस्‍त, 2009 से प्रारंभ अकादमिक वर्ष से गतिविधियां प्रारंभ की हैं।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cuk.ac.in पर क्लिक करें

33. केरल केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

केरल केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय जनवरी, 2009 में केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2009 के तहत स्‍थापित किया गया था। इसने दो अकादमिक कार्यक्रम अंग्रेजी में एम.ए. और तुलनात्‍मक साहित्‍य और अर्थशास्‍त्र में एम.ए. के साथ कार्य करना शुरू किया। केरल विश्‍वविद्यालय का क्षेत्राधिकार राज्‍य व्‍यापी है और राज्‍य के किसी भी भाग में क्षेत्रीय केन्‍द्र स्‍थापित कर सकता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cukerala.ac.in पर क्लिक करें

34. डॉ. हरीसिंह गौड़ विश्‍वविद्यालय

यह विश्‍वविद्यालय 15 जनवरी, 2009 से केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय घोषित किया गया था। परंपरागत डिग्री से अलग स्‍नातकोत्‍तर एवं अनुसंधान पाठ्यक्रम, भू-विज्ञान, फार्मेसी, अपराध विज्ञान और फारेंसिक विज्ञान, मानव शास्‍त्र, मंचीय कला, पत्रकारिता एवं जनसंचार, प्रौढ़ शिक्षा, इलेक्‍ट्रानिक्‍स, व्‍यापार प्रबंधन, सूक्ष्‍म जीव विज्ञान, बायोटेक्‍नोलॉजी एवं कम्‍प्‍यूटरगत अनुप्रयोग आदि कुछ विषय हैं। विश्‍वविद्यालय का दूरस्‍थ शिक्षा संस्‍थान एम.लिबएससी, बी.लिब., एमसी(जे), वीजे(सी), पर्यावरणीय विपणन और कार्मिक प्रबंधन में स्‍नातकोत्‍तर डिप्‍लोमा, अपराध विज्ञान और पुलिस प्रशासन में स्‍नातकोत्‍तर डिप्‍लोमा जैसे विभिन्‍न स्‍ववित्‍तपोषित, पत्राचार पाठ्यक्रम चलाता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.dhsgsu.ac.in/ पर क्लिक करें

35. उड़ीसा केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

केन्‍द्रीय उड़ीसा विश्‍वविद्यालय का गठन केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम, 2009 के तहत संसद द्वारा किया गया था। यह विश्‍वविद्यालय संकाय वर्ग की उत्‍कृष्‍टता तथा शिक्षण और छात्रवृत्‍ति के बीच संतुलन छात्रवृत्‍ति,नेतृत्‍व तथा आर्थिक रूप से संगत शिकषा; भागीदारी के गहन नेटवर्क; इसके विविध तथा समेकित परिसर; और जनजातीय सामाजिक शैक्षिक,आर्थिक तथा सांस्‍कृतिक चुनौतियों को हल करने की वचनबद्धता के लिए जाना जाता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://cuo.org पर क्लिक करें

36. पंजाब केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

केन्‍द्रीय पंजाब विश्‍वविद्यालय का गठन केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम,2009 के माध्‍यम से किया गया था। विश्‍वविद्यालय के कुछ मुख्‍य उद्देश्‍य शिक्षा की ऐसी शाखाओं में अनुदेशी तथा शोध सुविधाएं प्रदान करके ज्ञान का प्रसार और प्रचार करना,जो वह उचित समझे तथा अपने तकनीकी कार्यक्रमों में मानविकी] सामाजिक विज्ञान, विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी में समेकित पाठ्यक्रम के लिए विशेष प्रावधान करना है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://cup.ac.in पर क्लिक करें

37.राजस्‍थान केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

केन्‍द्रीय राजस्‍थान विश्‍वविद्यालय का गठन केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम,2009 के तहत संसद के अधिनियम द्वारा फरवरी, 2009 में किया गया था। विश्‍वविद्यालय ने शैक्षिक वर्ष 2010-11 से छह नए स्‍नातकोत्‍तर कार्यक्रम आरंभ किए हैं। 2009-10 में आरंभ किए गए दो कार्यक्रमों के साथ इन कार्यक्रमों का संचालन किशनगढ़ स्‍थित अस्‍थायी परिसर से किया जा रहा है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.curaj.ac.in/ पर क्लिक करें

38.तमिलनाडु केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

केन्‍द्रीय तमिलनाडु विश्‍वविद्यालय का गठन केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय अधिनियम,2009 के माध्‍यम से किया गया था। यह विश्‍वविद्यालय अस्‍थायी परिसर से कार्य कर रहा है तथा 4 कार्यक्रम संचालित कर रहा है अर्थात अंग्रेजी अध्‍ययन में एम.ए. तथा भौतिकी, रसायन एवं गणित में समेकित एम.एससी. कार्यक्रम।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cutn.ac.in/ पर क्लिक करें

39. हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्‍वविद्यालय

पहले दिसंबर 1973 में स्‍थापित हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्‍वविद्यालय,बाद में एक केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में जनवरी,2009 में स्‍थापित किया गया था। विश्‍वविद्यालय में 3 परिसर तथा 180 से अधिक संबद्ध कॉलेज तथा संस्‍थान (राज्‍य द्वारा संचालित/सहायता प्राप्‍त तथा स्‍व:वित्‍तपोषित दोनों) हैं। यह विश्‍वविद्यालय 10 संकाय सदस्‍यों के माध्‍यम से कई उच्‍च शिक्षण पाठ्यक्रम तथा शैक्षिक कार्यक्रम चलाता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://hnbgu.ac.in पर क्लिक करें

40.जम्‍मू केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय

इन 40 केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालयों के अतिरिक्‍त 2 और केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय हैं अर्थात केन्‍द्रीय कृषि विश्‍वविद्यालय, इम्‍फाल,मणिपुर जो कृषि मंत्रालय के अंतर्गत है तथा इंडियन मैरीटाइम यूनिवर्सिटी,चेन्‍नई जो शिपिंग मंत्रालय के अंतर्गत है। एक और विश्‍वविद्यालय नामत: दक्षिण एशिया विश्‍वविद्यालय है जो विदेश मंत्रालय के अंतर्गत है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cujammu.in पर क्लिक करें

अन्‍य केन्‍द्रीय केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय जो मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अंतर्गत नहीं है।

1. दक्षिण एशिया विश्‍वविद्यालय

दक्षिण एशिया विश्‍वविद्यालय दक्षिण एशिया क्षेत्रीय सहयोग संघ (सार्क) के आठ सदस्‍य राष्‍ट्रों द्वारा प्रायोजित एक अंतर्राष्‍ट्रीय विश्‍वविद्यालय है। ये आठ देश हैं: अफगानिस्‍तान, बंगलादेश, भूटान, भारत, मालद्वीप, नेपाल, पाकिस्‍तान तथा श्रीलंका। इस विश्‍वविद्यालय का गठन करने के लिए औपचारिक करार पर 4 अप्रैल, 2007 को हस्‍ताक्षर किए गए थे। विश्‍वविद्यालय का पहला शैक्षिक सत्र दो स्‍नातकोत्‍तर शैक्षिक कार्यक्रमों, अर्थशास्‍त्र तथा कम्‍प्‍यूटर विज्ञान प्रत्‍येक में एक-एक के साथ अगस्‍त, 2010 में आरंभ हुआ।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.southasianuniversity.org पर क्लिक करें

2. नालंदा विश्‍वविद्यालय

नालंदा विश्‍वविद्यालय नवम्‍बर 2010 में स्‍थापित किया गया। विश्‍वविद्यालय संसद के विशेष अधिनियम द्वारा अस्तित्‍व में आया – भारतीय बौद्धिक परिवेश में नालंदा विश्‍वविद्यालय की महत्‍वपूर्ण दर्जे का साक्ष्‍य है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://nalandauniv.edu.in/index.html पर क्लिक करें

3. केन्‍द्रीय कृषि विश्‍वविद्यालय

केन्‍द्रीय कृषि विश्‍वविद्यालय का मुख्‍य उद्देश्‍य भारत में कृषि शिक्षा, अनुसंधान और विस्‍तार शिक्षा प्रदान करना हैं जिसने पूर्वोत्‍तर क्षेत्र की अनुसंधान की क्षमता को सशक्‍त करने और उपाय सुझाने के लिए राष्‍ट्रीय कृषि अनुसंधान परियोजना के तहत 1982 में एक अनुसंधान समिति गठित की। समिति को कृषि और सहायक सेक्‍टर की मानव शक्ति की आवश्‍यकताओं को पूरा करने के लिए और उपचारात्‍मक उपायों को सुझाने के लिए अतिरिक्‍त अधिदेश दिया गया है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.cau.org.in पर क्लिक करें

4. भारतीय मेरिटाइम विश्‍वविद्यालय

भारतीय मेरिटाइम विश्‍वविद्यालय संसद के अधिनियम (अधिनियम 22) द्वारा 14 नवम्‍बर, 2008 को केन्‍द्रीय विश्‍वविद्यालय के रूप में स्‍थापित किया गया और यह मेरिटाइम सेक्‍टर के लिए प्रशिक्षित मानव संसाधन के विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। प्रत्‍येक वर्ष 14 नवम्‍बर को आईएमयू दिवस मनाया जाता है।
अधिक ब्‍यौरे के लिए http://www.imu.edu.in पर क्लिक करें

5. राजीव गांधी उड्डयन विश्‍वविद्यालय